पुराना

एक शख्स ने पानी के नीचे एक प्राचीन शहर के खंडहर पाए जाने का हैरतअंगेज दावा किया है. उसका कहना ​​है कि पानी की गहराई से जो पत्थर मिले हैं, वो प्राचीन शहर में बनी इमारतों के अवशेष हैं. 

  • पूर्व आर्किटेक्ट का बड़ा दावा
  • पानी की गहराई में शहर मिलने का दावा

एक पूर्व आर्किटेक्ट ने पानी के अंदर 1200 साल पुराने शहर को खोजने का दावा किया है. इस अमेरिकी आर्किटेक्ट का नाम क्रैकपॉट जॉर्ज गेले (Crackpot George Gelé) है. उन्होंने मेक्सिको की खाड़ी में Chandleur Islands पर पानी के नीचे एक प्राचीन शहर के खंडहर पाए जाने का हैरतअंगेज दावा किया है. गेले का कहना ​​है कि पानी की गहराई से जो पत्थर उन्हें मिले हैं, वो प्राचीन शहर में बनी इमारतों के अवशेष हैं. 

जॉर्ज गेले ने प्राचीन शहर के अवशेष के साथ एक पिरामिड मिलने का भी दावा किया है. उन्होंने बताया कि कथित तौर पर जिस जगह 12,000 साल पुराने शहर के अवशेष मिले हैं, उस साइट पर उन्होंने 44 बार विजिट किया था. लेकिन, 1200 साल पुराने शहर खोजने के उनके दावे पर एक्सपर्ट को बहुत ज्यादा भरोसा नहीं है. 

हालांकि, पूर्व आर्किटेक्ट गेले का दावा है कि पानी में मिले इस ग्रेनाइट शहर के केंद्र में एक पिरामिड भी है. उन्होंने WWL-TV को बताया- ‘सैकड़ों इमारतें हैं जो रेत और गाद से ढकी हैं. वो गीज़ा के महान पिरामिड से संबंधित हैं.’ गेले के मुताबिक, किसी ने Mississippi नदी के नीचे एक अरब पत्थर तैराए और उन्हें बाहर इकट्ठा किया जो बाद में New Orleans बन गया.”

‘डेली स्टार’ के मुताबिक, गेले लगभग 50 वर्षों से ‘प्रमुख इमारतों के अवशेष’ और ‘बड़े पिरामिड’ का अध्ययन कर रहे हैं. हाल ही में जब वो नाव से समुंदर में गए तो उन्हें कथित तौर पर 1200 साल पुराना ग्रेनाइट का शहर मिला. जिस जगह शहर मिलने का दावा उन्होंने  किया है वो क्षेत्र पहले भी स्थानीय चर्चा का विषय रहा है. क्योंकि यहां के मछुआरे कई बार अपने जाल में अजीब तरह की चट्टानों के फंसने की सूचना देते रहते हैं.