सबसे छोटी अभाज्य संख्या दो क्यों है?

सबसे न्यूनतम अभाज्य संख्या क्यों है? चूंकि जिन संख्याओ के सिर्फ दो गुणनखंड (1 व स्वयं ) होते है उन्हें अभाज्य संख्या कहा जाता है। अतः 2 ही सबसे छोटी अभाज्य संख्या है ।