10th ke baad arts lene ke fayde

पी के समय में हर क्षेत्र में बहुत अच्छे अवसर सभी को प्राप्त होती हैं आज जो भी छात्र आप सभी से लेकर पढ़ाई करते हैं उनको बहुत अच्छे अच्छे अवसर प्राप्त होते हैं आज इस आर्टिकल में हम आज लेने के फायदे के बारे में जानेंगे जो भी छात्र 12वीं या 10वीं परीक्षा के बाद आर्ट्स विषय से पढ़ाई करना चाहते हैं या अपना ग्रेजुएशन आर्ट्स विषय से करना चाहते हैं उनके मन में एक प्रश्न हमेशा रहता है कि arts lene ke fayde क्या है आज इस आर्टिकल में आप इसी विषय के बारे में विस्तार से जानेंगे।

आर्टिकल में मैं आपको दसवीं के बाद आर्ट्स लेने के फायदे 12वीं के बाद आर्ट्स लेने के फायदे और आर्ट्स लेने के फायदे क्या होते हैं इनके बारे में सारी जानकारी दूंगा अगर आप भी arts लेना चाहते हैं और आप के फायदे के बारे में जानना चाहते तो हमारे आर्टिकल को पूरा ध्यान से पढ़ें।

Arts stream एक ऐसे स्ट्रीम है जिसमें students के पास कई विषयों के चयन के साथ अनेक career options होते हैं। आर्ट्स स्ट्रीम के तहत अनेक महत्त्वपूर्ण विषय और careers option शामिल हैं। आर्ट्स छात्र अपनी प्रतिभा के बूते पर एक कामयाब वकील, नेता, प्रोफेसर, जर्नलिस्ट या फिर सफल कारोबारी भी बन सकते हैं। इस आर्टिकल में आर्ट्स स्ट्रीम से 12वीं पास करने वाले छात्र के लिए higher studies और करियर अवसर की महत्त्वपूर्ण जानकारी पेश है।

साइंस और कॉमर्स स्ट्रीम में मुख्य विषय लगभग एक समान होते हैं लेकिन, जब बात आर्ट्स स्ट्रीम की आती है तो मामला काफी अलग होता है। आर्ट्स स्ट्रीम में, हायर स्टडीज़ के लिए अनेक ऑप्शन्स स्टूडेंट्स के पास उपलब्ध होते हैं उदाहरण के लिए, अगर कोई स्टूडेंट cartography में अपना करियर शुरू करना चाहता है तो उसके लिए भूगोल का चयन हाई स्कूल के दौरान ही optional subject में से एक के रूप में करना महत्वपूर्ण है। आर्ट्स स्ट्रीम के स्टूडेंट्स निम्नलिखित विषयों में डिग्री हासिल कर सकते हैं:

Bachelor of Arts (B.A) सबसे लोकप्रिय ग्रेजुएशन लेवल का कोर्स है जिसे हाई स्कूल पास करने के बाद  ही किया जाता है। इसके अंतर्गत विभिन्न विषय हैं जिन्हें स्टूडेंट्स अपने करियर के अनुसार चुन सकते हैं आमतौर पर अगर आपने आर्ट्स स्ट्रीम का चयन किया है।

तो इसका मतलब यह नहीं है कि आगे चलकर आप किसी टेक्निकल कोर्स में एडमिशन नहीं ले सकते हैं। अंडर ग्रेजुएट लेवल पर आर्ट स्ट्रीम के स्टूडेंट्स के लिए कोई technical course भी उपलब्ध हैं जिन्हें join करके स्टूडेंट्स भविष्य में किसी टेक्निकल फील्ड में अपना करियर बना सकते हैं।

अगर आपको कानूनी दाव पेंच अच्छे लगते हैं और आप भविष्य में एक कामयाब वकील बनना चाहते हैं तो हाई स्कूल में आर्ट्स स्ट्रीम आपके लिए सटीक चयन होगा। आर्ट्स से ग्रेजुएशन करने के बाद स्टूडेंट्स एलएलबी कर सकते हैं. आमतौर पर, एलएलबी की योग्यता स्नातक की डिग्री है। हालांकि, आजकल स्टूडेंट्स लॉ में 5 साल के एकीकृत कार्यक्रम भी ज्वाइन कर सकते हैं.

B.A + LLB – बैचलर ऑफ आर्ट्स और बैचलर ऑफ लेजिसलेटिव लॉ

BBA + LLB – बैचलर ऑफ बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन और बैचलर ऑफ लेजिसलेटिव लॉ

अगर career scope की बात की जाये तो इस संदर्भ में management विषय शुरू से ही बहुत सफल साबित हुआ है। आर्ट्स स्ट्रीम के स्टूडेंट्स के लिए भी 12 वीं पास करने के बाद कई मैनेजमेंट कोर्स उपलब्ध हैं। इनमें ग्रेजुएशन डिग्री लेवल के कोर्स, पांच साल के एकीकृत कोर्स और short term certification प्रोग्राम भी शामिल हैं। 

डिजाइनिंग आर्ट्स स्टूडेंट्स के लिए काफी विशाल करियर डोमेन है, खासकर उन स्टूडेंट्स के लिए जो visual arts हैं। आर्ट्स स्ट्रीम के स्टूडेंट्स के लिए डिजाइन स्ट्रीम में कई ग्रेजुएशन लेवल के कोर्स उपलब्ध हैं। डिजाइन में फुल टाइम तीन साल के ग्रेजुएशन कोर्स के अलावा, छात्र विभिन्न संस्थानों द्वारा सर्टिफिकेट और डिप्लोमा कोर्सेज भी कर सकते हैं। 

जो आर्ट्स स्टूडेंट्स performing arts में रुचि रखते हैं, उनके लिए  आर्ट्स स्ट्रीम में 12वीं पास करने के बाद कई performing arts कोर्स उपलब्ध हैं। इन कोर्सेज से विशेष रूप से आवश्यक ज्ञान हासिल करने और आवश्यक कौशल विकसित करने में मदद मिलती गया है। इस डोमेन में सबसे लोकप्रिय B.A in Performing Arts है। इनके अलावा, संबंधित परफॉर्मिंग आर्ट्स के लिए विशिष्ट short term diploma और सर्टिफिकेट लेवल कोर्स भी विभिन्न संस्थानों द्वारा कराये जाते हैं।

आर्ट्स स्ट्रीम के बारे में अधिकतर छात्र और उनके माता-पिता के मन में कई संशय होते हैं जैसे कि, यह  विषय बहुत आसान होने के साथ-सा इसमें करियर स्कोप बहुत कम है। इस तरह के सभी संशय वास्तव में निराधार हैं क्योंकि, इस विषय में भी स्टूडेंट्स के लिए बहुत चुनौतियां हैं तथा आर्ट्स स्ट्रीम के स्टूडेंट्स UPSC, सिविल सर्विसेज जैसी प्रशानिक सेवाओं की परीक्षा (administrative service exam) में सफलता हासिल कर समाज और करियर में एक उच्च मक़ाम हासिल करते हैं।

आर्ट्स स्ट्रीम स्टूडेंट्स के लिए कोर्स और करियर में अवसरों की भरमार है। इसके अंतर्गत सबसे अधिक पोलिंग सब्जेक्ट्स का चयन करने की स्वतंत्रता स्टूडेंट्स को मिलती है. स्टूडेंट्स अपने विचार, और रुचि के मुताबिक आर्ट्स स्ट्रीम के विभिन्न कोर्स join कर सकते हैं।