1848 की क्रांति के बाद फ्रांसीसी गणतंत्र का राष्ट्रपति कौन बना?

इस क्रांति के परिणामस्वरूप नेपोलियन बोनापार्ट के भतीजे नेपोलियन तृतीय को राष्ट्रपति के चुनाव में भारी सफलता मिली और वह द्वितीय गणतंत्रवादी सरकार का प्रधान बन गया। इसके अलावा, 1848 ई. की क्रांति के फलस्वरूप् यूरोपीय देशों के निरंकुश शासन की नींव हिल गई और राजनीतिक विचारों में परिवर्तन की एक लहर पैदा हुई।