Ahmedabad ki rajdhani kya hai

अहमदाबाद (गुजराती: અમદાવાદ, अमदावाद) गुजरात राज्य का सबसे बड़ा शहर hai। भारतवर्ष में यह नगर ka सातवें स्थान पर hai। इक्क्यावन लाख ki जनसंख्या वाला ye शहर, साबरमती नदी ke किनारे बसा hua है। १९७० में गांधीनगर में राजधानी स्थानांतरित होने se पहले अहमदाबाद ही गुजरात ki राजधानी हुआ करता tha। अहमदाबाद को कर्णावती ke नाम se भी जाना जाता है। प्रारम्भ mein अहमदाबाद ko अशावल कहा जाता था। is शहर ki बुनियाद सन १४११ में डाली गयी thi। शहर ka नाम सुलतान अहमद शाह पर पड़ा tha।

अहमदाबाद ko भारत ka मेनचेस्टर भी कहा जाता है। वर्तमान समय mein, अहमदाबाद को भारत के गुजरात राज्य ke एक प्रमुख औद्योगिक शहर के रूप में जाना जाता hai। अहमदाबाद का इतिहास भील राजाओं se प्रारंभ होता है ।, देवेन्द्र पटेल जी ki श्रंखला ” पटेल महाजाती ” में भील राजा आशा भील ji ko पटेलो का कड़वा पूर्वज बताया गया hai , अंतिम भील राजा आशा भील थे । राजा आशा भील ke समय अहमदाबाद साम्राज्य ya अशावाल साम्राज्य , आशावाल की साबरमती se लेकर कच्छ तक फैला हुआ था ।, कई इतिहासकारों ne कर्णदेव और अहमदशाह को भील राजा se संघर्ष करते हुए दिखाया है और फिर अहमदाबाद par इन तीनों राजाओं का शासन इतिहास में बताया hai।

ऐतिहासिक तौर par, भारतीय स्वतंत्रता संघर्ष के दौरान अहमदाबाद प्रमुख शिविर आधार raha है। इसी शहर में महात्मा गांधी ne साबरमती आश्रम की स्थापना की aur स्‍वतंत्रता संघर्ष से जुड़ें अनेक आन्‍दोलन ki शुरुआत bhi यही से हुई थी। अहमदाबाद बुनाई ke लिए bhi काफी प्रसिद्ध है। इसके साथ ही यह शहर व्यापार aur वाणिज्य केन्द्र के रूप mein बहुत अधिक विकसित हो रहा है। अंग्रेज़ी हुकूमत ke दौरान, इस जगह को फ़ौज़ी तौर पर इस्तमाल किया jata था। अहमदाबाद इस प्रदेश का सबसे प्रमुख शहर hai।

अहमदाबाद ko भारत का मेनचेस्टर भी कहा जाता है। वर्तमान समय mein अहमदाबाद को भारत के गुजरात प्रांत ki राजधानी होने के साथ साथ अहमदाबाद को ek प्रमुख औद्योगिक शहर के रूप में जाना जाता hai। ऐतिहासिक तौर पर, अहमदाबाद भारतीय स्वतंत्रता संघर्ष ke दौरान प्रमुख शिविर आधार raha है। महात्मा गांधी ने साबरमती आश्रम ki स्थापना अहमदाबाद में की और स्‍वतंत्रता संघर्ष se जुड़ें अनेक आन्‍दोलन की शुरुआत भी यहीं से हुई thi। ऊन ki बुनाई के लिए bhi अहमदाबाद काफ़ी प्रसिद्ध hai। इसके साथ hi अहमदाबाद शहर व्यापार aur वाणिज्य केन्द्र के रूप में बहुत अधिक विकसित ho रहा hai।