Bsc nursing kitne saal ki hoti hai

12वीं ka परीक्षा देने ke बाद छात्रों के पास अपना करियर विकल्प चयन करने ka समय होता hai। इसी दौरान छात्र अपने करियर se रिलेटेड सोच विचार kar अपने लिए महत्वपूर्ण फैसला lete हैं। 12वीं ke बाद अपने करियर se संमंधित गलत फैसला आपके पूरे करियर ko खत्म kar सकता है। वहीं par अगर आपने अपने करियर se रिलेटेड koi अच्छा फैसला ले liya तो यह आगे चलकर आपको बुलंदियों tak bhi पहुंचा सकता है। अगर आपने साइंस se 12वीं ki पढ़ाई की है तो आपको भविष्य mein मेडिकल क्षेत्र se संबंधित बहुत सारे कोर्स मिल jate hain, जैसे बीएससी नर्सिंग।

अगर आप मैनेजमेंट mein जाना चाहते hain तो डिप्लोमा इन नर्सिंग एडमिनिस्ट्रेशन कोर्स kar सकते हैं, iske लिए आपके पास 2 साल ka एक्सपीरियंस hona चाहिए तभी aap इस कोर्स के लिए अप्लाई kar सकते hain। इस कोर्स में आपको सिखाया jata है ki हॉस्पिटल में नर्सिंग स्टाफ को कैसे मैनेज kiya जाता hai। यह कोर्स 3 साल का होता hai। yah कोर्स करने के लिए आपके पास बीएससी नर्सिंग ya जीएनएम ki डिग्री honi चाहिए। इसी ke साथ 2 साल का वर्क एक्सपीरियंस bhi होना चाहिए। इस कोर्स ke लिए आपको 10 हजार se 1 लाख tak फीस देनी पड़ सकती hai। वहीं कोर्स पूरा करने ke बाद आप 3 लाख से 5 लाख रूपये tak सालाना सैलरी le सकते hain।

चिकित्सा विज्ञान ka क्षेत्र ek ऐसा क्षेत्र है जिस में दिन-प्रतिदिन तरक्की aur करियर se संबंधित ढेरों विकल्प मौजूद होते चले jaa रहे hain। चिकित्सा ke क्षेत्र में BSc nursing ek अंडर ग्रेजुएट कोर्स है। ऐसा कोर्स hai जिसके माध्यम se आप आसानी se चिकित्सा ke क्षेत्र में अपना भविष्य उज्जवल kar सकते hain। बीएससी नर्सिंग एक ऐसा डिग्री hai जिसमें आपको पैसा bhi मिलेगा और साथ ही mein आपको सम्मान bhi मिलेगा। अगर छात्र ne साइंस se 12वीं की पढ़ाई की है और वह 55% se लेकर 50% अंकों se उत्तीर्ण है, to BSc नर्सिंग कोर्स ke लिए योग्य माना जाएगा।

चिकित्सा ke क्षेत्र में जाने के लिए आपको yah जरूरी नहीं है, ki एमबीबीएस ya फिर बीडीएस जैसे बड़े कोर्सों ko करना पड़ेगा। ek सफल डॉक्टर बनने ke लिए आपको बहुत hi ज्यादा पैसे, समय aur मेहनत आदि ko लगाना पड़ता है। परंतु चिकित्सा ke क्षेत्र में महंगे aur कठिन परिश्रम के अतिरिक्त कुछ ऐसे कोर्स bhi मौजूद hai। जिनके माध्यम se आप इस क्षेत्र mein अपना करियर बना सकते hain। BSc नर्सिंग ek ऐसा ही कोर्स है जिसे आप अपने पैसे, समय aur कम मेहनत ke बल पर आसानी se कर सकते hain।

आज ke समय में नर्सों ki बहुत कमी है और यह आगे चलकर चिकित्सा ke क्षेत्र mein समस्या भी बनकर उभरने वाली ho सकती hai। इस नजरिए से bhi BSc नर्सिंग कोर्स करने ke बाद भविष्य में आपको करियर se संबंधित ढेरों विकल्प मौजूद ho सकते hain।