Dakhil kharij kaise hota hai

Dakhil Kharij (दाखिलख़ारिज) को शब्दशः समझे तोदाखिल अर्थात दर्ज करना तथा ख़ारिज अर्थात निरस्त करना अर्थात किसी संपत्ति से विक्रेता के नाम को निरस्त कर क्रेता के नाम को दर्ज करने की प्रक्रिया को दाखिल ख़ारिज कहते है।