Difference between system software and application software in hindi

सॉफ्टवेयर के बारे में तो हम सब ने सुना है और हर रोज अलग-अलग तरह के सॉफ्टवेयर को हम कंप्यूटर में इस्तेमाल करते है। कंप्यूटर में सॉफ्टवेयर को मूल रूप से दो श्रेणियों में वर्गीकृत किया जाता है सिस्टम सॉफ्टवेयर और एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर।

सिस्टम सॉफ्टवेयर और एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर को उनके डिजाइन करने के उद्देश्य के आधार पर अलग कर सकते हैं। अगर System Software और Application Software के बीच के मुख्य अंतर की बात करें तो यह है की सिस्टम सॉफ्टवेयर कंप्यूटर के एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर और हार्डवेयर के बीच एक इंटरफेस के रूप में कार्य करता है। एप्लिकेशन सॉफ़्टवेयर उपयोगकर्ता और सिस्टम सॉफ़्टवेयर के बीच एक इंटरफ़ेस कार्य करता है।

सिस्टम सॉफ्टवेयर को कंप्यूटर हार्डवेयरको मैनेज करने के लिए बनाया गया है और यह कंप्यूटर में एप्लिकेशन सॉफ्टवेयर को चलाने के लिए एक प्लेटफार्म भी प्रदान करता है। दूसरी ओर, एप्लिकेशन सॉफ़्टवेयर उपयोगकर्ताओं को उनके विशिष्ट कार्यों को करने के लिए डिज़ाइन किया गया है।

इसके आलावा भी System Software और Application Software में कुछ महत्वपूर्ण अंतर होते है जिनको Difference Table के माध्यम से हम नीचे जानेंगे लेकिन उससे पहले हम System Software और Application Software क्या होते है इसको और अच्छे से समझ लेते है।

सिस्टम सॉफ्टवेयर एक कंप्यूटर सॉफ्टवेयर है जिसे  low-level language जैसे असेंबली लैंग्वेज में लिखा जाता है । सिस्टम सॉफ्टवेयर का मुख्य उद्देश्य सिस्टम के रिसोर्स का प्रबंधन और नियंत्रण करना है। यह एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर और सिस्टम के बीच का इंटरफेस है। कंप्यूटर के ऑपरेटिंग सिस्टम को भी  सिस्टम सॉफ्टवेयर कहा जाता है।

सिस्टम सॉफ़्टवेयर सिस्टम संसाधनों को बनाए रखता है और एप्लिकेशन सॉफ़्टवेयर को चलाने के लिए प्लेटफार्म प्रदान करता है। एक महत्वपूर्ण बात यह है कि सिस्टम सॉफ्टवेयर के बिना, सिस्टम नहीं चल सकता है।

What is Application Software in Hindi-एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर किसे कहते है

एप्लिकेशन सॉफ्टवेयर एक प्रोग्राम या प्रोग्राम है जो एंड-यूजर्स के लिए बनाया गया है। एप्लिकेशन सॉफ्टवेयर को high-level language  जैसे की Java, VB, .net लैंग्वेज में लिखा जाता है।

एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर को उपयोगकर्ता की Requirement और आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए डिज़ाइन किया गया है। यह एक कंप्यूटिंग सॉफ्टवेयर, एडिटिंग सॉफ्टवेयर, डिजाइनिंग सॉफ्टवेयर आदि हो सकता है। इसका मतलब है कि प्रत्येक एप्लिकेशन सॉफ्टवेयर एक विशिष्ट उद्देश्य के लिए बनाया गया है।

एप्लिकेशन सॉफ़्टवेयर सिस्टम सॉफ़्टवेयर द्वारा बनाए गए प्लेटफ़ॉर्म पर चलता है। एप्लिकेशन सॉफ्टवेयर एंड-यूजर्स और सिस्टम सॉफ्टवेयर के बीच एक मध्यस्थ है। आप एक सिस्टम सॉफ्टवेयर पर कई एप्लिकेशन सॉफ्टवेयर को इनस्टॉल  कर सकते हैं।

कंप्यूटर सिस्टम को चलाने के लिए एप्लिकेशन सॉफ्टवेयर आवश्यक नहीं है, लेकिन यह सिस्टम को उपयोगी बनाता है। एप्लिकेशन सॉफ्टवेयर के लिए उदाहरण एमएस ऑफिस, फोटोशॉप आदि हैं।

सिस्टम सॉफ्टवेयर और एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर में क्या अंतर है

अभी तक ऊपर हमने जाना की System Software और Application Software किसे कहते है अगर आपने ऊपर दी गयी सारी चीजे ध्यान से पढ़ी है तो आपको System Software और Application Software के बीच क्या अंतर है इसके बारे में पता चल गया होगा।

अगर आपको अब भी System Software और Application Software क्या होता है और इसमें क्या अंतर है इसको समझने में में कोई Confusion है तो अब हम आपको इनके बीच के कुछ महत्वपूर्ण अंतर नीचे बताने जा रहे है।