Hindi plagiarism checker

किसी को भी duplicate और plagiarized content पसंद नहीं है, वो चाहे कोई scholar हो या फिर कोई blogger. इसलिए लोग Online Plagiarism Checker ढूंढते है. ऐसा इसलिए क्यूंकि एक Plagiarised Content में कभी भी originality देखने को नहीं मिलती, जिस कारण से इसे एक authentic content नहीं कहा जा सकता है. ऐसे में अगर आप एक Blogger हो तब तो Google आपके इस प्रकार के content को पूरी तरह से reject कर देता है.

अब सवाल आता है की तब कैसे ये check करें की कोई content plagiarized है भी या नहीं. तब आपको बता दूँ की Internet में ऐसे बहुत से Free और Paid Plagiarism Checker Tools उपलब्ध हैं जिससे की आप English और Hindi Content verify कर सकते हैं.

आज के इस article “हिंदी ब्लॉग के लिए best free plagiarism checker for Hindi text” में हम ऐसे Free Plagiarism Tools के विषय में जानेंगे जिनका इस्तमाल आप अपने Blog या कोई content में कर सकते हैं. तो फिर चलिए शुरू करते हैं.

Plagiarism का मतलब होता है की किसी दुसरे के कार्य को या idea को चुराना और अपने लिए उसका इस्तमाल करना, बिना उसे सही credit या reference दिए ही.

उदाहरण के तोर पर, यदि आप कोई ऐसा content लिख रहे हैं अपने ब्लॉग पर जिसके लिए आप कुछ ideas दुसरे popular blogs से ले रहे हैं, ऐसे में यदि आप बिना कोई reference दिए या credit दिए ऐसा करते हैं तब ये Plagiarism कहलाएगी.

यदि आप ऐसा करते हैं तब वहां पर आपने plagiarism किया है.

मैंने ऐसे बहुत से Bloggers को देखा है जो की अलग अलग ब्लॉग से ideas लेते हैं और उन्हें अपने ढंग से लिखते हैं तब ये भी एक प्रकार का Plagiarism होता है. ऐसे में यदि आप Blogging को लेकर serious हैं तब आपको ये सभी चीज़ें नहीं करनी चहिये. बल्कि आप अपने हिसाब से अपनी सोच के अनुसार चीज़ों को करने के ऊपर ध्यान दें.

यदि आप ऐसा करते हैं तब वहां पर आपने plagiarism किया है.

मैंने ऐसे बहुत से Bloggers को देखा है जो की अलग अलग ब्लॉग से ideas लेते हैं और उन्हें अपने ढंग से लिखते हैं तब ये भी एक प्रकार का Plagiarism होता है. ऐसे में यदि आप Blogging को लेकर serious हैं तब आपको ये सभी चीज़ें नहीं करनी चहिये. बल्कि आप अपने हिसाब से अपनी सोच के अनुसार चीज़ों को करने के ऊपर ध्यान दें.

यहाँ पर ये checker अक्सर पुरे Internet को scan करते हैं ये धुंडने के लिए की क्या कोई phrases, terms या quotes समान तो नहीं है. वहीँ कुछ Plagiarism Checker तो बहुत ही ख़ास होते हैं जो की Wording में समानता भी खोज लेते हैं जिससे आप ये बता सकते हैं की आपके article को किसी ने इस्तमाल किया है या आपने किसी के article का इस्तमाल किया हुआ है.

Plagiarism checkers का इस्तमाल लिखे हुए article की originality को check करने के लिए की जाती है. इसे इस्तमाल करने पर आप आसानी से cross-check कर सकते हैं text को duplicated content के लिए. Duplicated Content में शामिल हैं quoted material, paraphrased material, wordings में समानता इत्यादि.

ये सभी चीज़ों को manually करना असंभव है, इसलिए Plagiarism checkers का इस्तमाल किया जाता है ऐसे कार्यों को सहज करने के लिए. वहीँ आखिर में हमें एक Original Piece की Content प्राप्त हो.

वैसे तो आपको बहुत से free plagiarism online checker इस्तमाल करने के लिए मिल जायेंगे. लेकिन यहाँ पर हमने आपके लिए बेहतरीन free plagiarism checker no word limit को list किया हुआ है जिससे की आपको उन्हें खुदसे धुंडने की कोई जरुरत नहीं है. तो चलिए भी उन Tools के विषय में जानते हैं.