Iftar ki dua in hindi

हजरत शम्सुद्दीन दारानी कुद्दीसा सिरोहु फरमाते है ! कि मैं दिन को रोज़ा रखू ! और रात को …