Janu Kya Hota Hai

जानु 1- संज्ञा पुलिंग [संस्कृत] जाँघ और पिंडली के मध्य का बाग । घुटना । उदाहरण-(क) श्याम की सुंदरताई । बडे विशाल जानु लौं पहुँचत यह उपमा मन भाई ।