Ling badlo – लिंग बदलों

लिंग वास्तव में क्या है? लिंग एक संस्कृत शब्द है जो चिह्न को दर्शाता है और संस्कृत से उधार लिया गया है। लिंग एक ऐसा शब्द है जो किसी व्यक्ति की जाति का वर्णन करने के लिए प्रयोग किया जाता है। इससे पता चलता है कि वह मर्दाना है या महिला जाति। हम इस ब्लॉग में मर्दाना और स्त्री शब्दों के साथ-साथ हिंदी व्याकरण में लिंग को कैसे नियोजित किया जाता है, इसके बारे में अध्ययन करेंगे। तो, आइए करीब से देखें।

लिंग किसे कहते हैं?

लिंग शब्दों का एक समूह है जिसका उपयोग पुरुष और महिला व्यक्तियों के बीच अंतर करने के लिए किया जा सकता है। यदि आप स्त्री और पुरुष का बोध करा सकते हैं तो उन्हें लिंग कहा जाता है। आइए जानें कि लिंग का संस्कृत में क्या अर्थ होता है। इसका अर्थ है “चिह्न” या “चिह्न”।

जैसे

  • हाथी – हथनी
  • माली – मालिन
  • कवि – कवियत्री
  • राजा – रानी
  • सम्राट – सम्राज्ञी
  • घोड़ा – घोड़ी
  • लेखक – लेखिका
  • लड़का – लड़की
  • पंडित – पंडिताइन

लिंग कितने प्रकार के होते हैं?

लिंग दो प्रकार के होते हैं।

पुल्लिंग
स्त्रीलिंग

Ling badlo

पुल्लिंग किसे कहते है?

शब्द का वह रूप जिससे पता लगाया जाता है कि वह पुरुष जाति का है, उन्हें पुल्लिंग कहा जाता है। जैसे बेटा, कुता, लड़का, घोड़ा भेंड आदि।

उदाहरण

  • सजीव : बकरा, घोड़ा, लड़का, आदमी, शेर, हाथी, भेड़िया, खटमल, बन्दर, कुत्ता, बालक, शिशु, पत्रकार, राजा, राजकुमार आदि।
  • निर्जीव : रुमाल, कपड़ा, रक्त, रबर, शहद, सोना, वसंत, लगान, फल, धन, पत्थर, नशा, नक्शा, पोषण, भाग्य, मटर, धंधा, दबाव आदि।

स्त्रीलिंग किसे कहते हैं?

शब्द का वह रूप जिससे पता लगाया जाता है कि वह स्त्री जाति है, उन्हें स्त्रीलिंग कहा जाता है। जैसे बेटी, पुत्री, शिक्षिका, गाय, मोरनी आदि।

उदाहरण

  • सजीव : माता, लड़की, भेद, गाय, भैंस, बकरी, लोमड़ी, बंदरिया, मछली, बुढिया, शेरनी, नारी, रानी, राजकुमारी, बहन आदि।
  • निर्जीव : धोती, टोपी, सड़क, सजा, भीड़, छत, किताब, ईंट, ईर्ष्या, मंजिल, परत, झोंपड़ी, गंगा, नदी, शाखा, कुर्सी आदि।

चलिए देखते है लिंग बदलों के कुछ उदाहरण। 

पुल्लिंगस्त्रीलिंग
अनुजअनुजा
अभिनेताअभिनेत्री
अभिमानीअभिमानिनी
अहीरअहीरनी
आयुष्मानआयुष्मती
इंद्रइंद्राणी
ऊँटऊँटनी
ओझाओझाइन
नर मछलीमछली
कविकवयित्री
कहारकहारिन
कुत्ताकुतिया
कुम्हारकुम्हारिन
कौआमादा कौआ
गधागधी
गायकगायिका
नर गिलहरीगिलहरी
गीदड़गीदड़ी
गीदड़मादा गीदड़
गुड्डागुड़िया
गुरूगुरूआइन
गैंडामादा गैंडा
गोरागोरी
चिड़ाचिड़िया
चीतामादा चीता
चूहाचुहिया
विद्वान विदुषी
चौबेचौबाइन
छात्रछात्रा 
नर छिपकलीछिपकली
जाटजाटनी
जेठजेठानी
ज्ञानवानज्ञानवती
ठगठगिनी
ठाकुरठाकुराइन
डिब्बाडिबिया
तपस्वीतपस्विनी
दर्जीदर्जिन
दर्शकदर्शिका
दातादात्री
देवदेवी
देवरदेवरानी
धनवानधनवती
नगरनगरी
नरमादा
नागनागिन
नातीनातिन
नायकनायिका
नेतानेत्री
नौकरनौकरानी
पंडितपंडिताइन
पतिपत्नी
पाठकपाठिका
पापीपापिन
पितामाता
पुत्रपुत्री
पुत्रवानपुत्रवती
पुरषस्त्री
प्रियप्रिया
प्रियतमप्रियतमा

लिंग बदलों में हम क्लास 2 के पुल्लिंग और स्त्रीलिंंग के बारे में जानने की कोशिश करेंगे। तो नीचे दी गई टेबल को एक बार देखिए।

लिंग-परिवर्तन

पुल्लिंगस्त्रीलिंग
पितामाता
गायकगायिका
धोबीधोबिन
मालीमालिन
मोरमोरनी
लड़कालड़की
गुड्डागुड़िया
नरनारी
चूहाचुहिया
मास्टरमास्टरनी
बेटाबेटी
नौकरनौकरानी
पुरुषस्त्री
अध्यापकअध्यापिका
बूढ़ाबुढ़िया
हाथीहथिनी
राजारानी
शिष्यशिष्या
शेरशेरनी
प्रधानाचार्यप्रधानाचार्या
नर्तकनर्तकी
डिब्बाडिबिया

प्र. नीचे दिए गए शब्दो के लिंग बदलो.

  1. सुत- __________
  2. सुधारिका-
  3. सेठ-
  4. सेविका-
  5. स्वामी-
  6. हंसनी-
  7. हथिनी-
  8. हलवाइन-
  9. हिरन-
  10. अध्यापक-

नीचे दी गई लिस्ट में लिंग-परिवर्तन कर Class 4 के लिए दिए गए है।

पुल्लिंगस्त्रीलिंग
लेखकलेखिका
ग्वालाग्वालिन
शेरशेरनी
गायक गायिका
कविकवयित्री
विद्वानविदुषी
हंसहंसनी
भेड़भेड़ा
पड़ोसीपड़ोसिन
श्रीमानश्रीमति
नर तितलीतितली
नर मक्खीमक्खी
नर चीलचील
नर चीताचीता
नर मछलीमछली
बालकबालिका
शिष्यशिष्या
बालबाला
पंडितपंडिताइन
ठाकुरठाकुराइन