Manav sansadhan kise kahate hain

Manav sansadhan kise kahate hain

मानव संसाधन (HUMAN RESOURCES)वह अवधारणा है जो जनसंख्या को पर दायित्व से अधिक परिसंपत्ति के रूप में देखती है। शिक्षा प्रशिक्षण और चिकित्सा सेवाओं में निवेश के परिणाम स्वरूप जनसंख्या मानव संसाधन के रूप में बदल जाती है। मानव संसाधन उत्पादन में प्रयुक्त हो सकने वाली पूँजी hai

मानव निर्मित संसाधन के नाम

वायु, वन, वन्यजीव, खनिज़, ऊर्जा स्त्रोत आदि प्राकृतिक संसाधन हैं । 2- मानव निर्मित संसाधन – मानव द्वारा निर्मित संसाधनों को मानव निर्मित संसाधन कहा जाता हैं। इन संसाधनों का एक बार उपयोग करने के उपरान्त दुबारा उपयोग नही किया जा सकता हैं । कोयला, खनिज तेल : लकडी आदि इसके मुख्य उदाहरण hai

प्रौद्योगिकी एक मानव निर्मित संसाधन है कैसे?

लोग प्राकृतिक संसाधनों का उपयोग पुल, सड़क, मशीन और वाहन बनाने में करते हैं जो मानव निर्मित संसाधन के नाम से जाने जाते हैं। प्रौद्योगिकी भी एक मानव निर्मित संसाधन है।”इसीलिए हम जैसे लोग प्राकृतिक संसाधनों का उपयोग करके मानव निर्मित संसाधन बनाते हैं”, मोना ने समझाते हुए kaha

मानव संसाधन से क्या तात्पर्य है?

मानव संसाधन (HUMAN RESOURCES)वह अवधारणा है जो जनसंख्या को अर्थव्यवस्था पर दायित्व से अधिक परिसंपत्ति के रूप में देखती है। शिक्षा प्रशिक्षण और चिकित्सा सेवाओं में निवेश के परिणाम स्वरूप जनसंख्या मानव संसाधन के रूप में बदल जाती है। मानव संसाधन उत्पादन में प्रयुक्त हो सकने वाली पूँजी hai

मनुष्य एक विशिष्ट प्रकार का संसाधन क्यों है?

(i) लोगों को संसाधन इसलिए माना जाता है, क्योंकि मानव अपनी आवश्यकताओं और योग्यताओं द्वारा प्रकृति में उपलब्ध वस्तुओं को संसाधन में परिवर्तित करता hai

मानव का उत्पादन का सबसे महत्वपूर्ण संसाधन क्यों कहा जाता है

मानव संसाधन उत्पादन में प्रयुक्त हो सकने वाली पूँजी है। यह मानव पूँजी कौशल और उन्में निहित उत्पादन के ज्ञान का भंडार है। यह प्रतिभाशाली और काम पर लगे हुए लोगों और संगठनात्मक सफलता के बीच की कड़ी को पहचानने का सूत्र है। यह उद्योग/संगठनात्मक मनोविज्ञान और सिद्धांत प्रणाली संबंधित अवधारणाओं से संबद्ध hai

मनुष्य को मानव संसाधन क्यों कहा जाता है?

मानव संसाधन (HUMAN RESOURCES)वह अवधारणा है जो जनसंख्या को अर्थव्यवस्था पर दायित्व से अधिक परिसंपत्ति के रूप में देखती है। शिक्षा प्रशिक्षण और चिकित्सा सेवाओं में निवेश के परिणाम स्वरूप जनसंख्या मानव संसाधन के रूप में बदल जाती है। मानव संसाधन उत्पादन में प्रयुक्त हो सकने वाली पूँजी hai

हमें मानव संसाधन में निवेश की आवश्यकता क्यों पड़ती है

हमें मानव संसाधन में निवेश की आवश्यकता क्यों पड़ती है ? मानव की कुशलता और कार्यक्षमता को बढ़ाने के लिए मानव संसाधन में निवेश की आवश्यकता होती है। … (ii) मानव पूँजी अमूर्त होती है जिसे बाजार में बेचा नहीं जा सकता लेकिन भौतिक पूँजी मूर्त होती है जिसे बाजार में ले जाया जा सकता hai

संसाधनों को सावधानीपूर्वक प्रयोग करना क्या कहलाता है?

संसाधनों का सर्तकता तथा बुद्धिमतापूर्वक उपयोग करना और उन्हें नवीकरण के लिए समय देना, संसाधन संरक्षण कहलाता है।संसाधनों का सावधानीपूर्वक उपयोग ताकि न केवल वर्तमान पीढी ही नहीं, अपितु भावी पीढ़ियों की आवश्यकताएँ भी पूरी होती हें rahe

संसाधन के कितने प्रकार होते हैं?

  • प्राकृतिक संसाधन
  • मानव निर्मित संसाधन
  • मानव संसाधन