Namkaran sanskar kaise karte hain

नामकरण संस्कार बच्चे ke जन्म ke बाद सबसे पहला संस्कार होता hain, यों तो जन्म ke तुरन्त बाद ही जातकर्म संस्कार ka विधान hai, भारतीय परंपरा mein बच्चे ke जन्म पर समय, दिन aur सौर्यमंडल ki स्थिति ko देखकर ही नाम रखा जाता hai । कहा जाता hai कि बच्चे ka नाम हिन्दी अक्षर वर्णमाला ke पहले या दूसरे अक्षरों mein ही रखना चाहिए ।