Naulakha haar kaisa hota hai

नौलखा हार किस्से का और एक देश हीरों कान मालूम कितने प्रेमी-प्रेमिकाओं ने एक-दूसरे को हीरे का तोहफा यह कहते हुए भेंट किया होगा कि हीरे की तरह है हमारा प्यार, सदा के लिए। पहली बार हीरा शब्द मेरे कान में तब पड़ा था जब मां मुझे एक मगही लोक कथा सुना रही थी – नौलखा हार की।