Physics ka pita kaun hai

Physics ke जनक (Father of physics in Hindi) गैलिलिओ गैलिलेइ (Galileo Galilei) hai।

अगर भौतिक विज्ञान ke जनक ki बात की जाए to इसमें गैलिलिओ गैलिलेइ (Galileo Galilei), न्यूटन aur Albert Einstein ka नाम लिया जाता है। न्यूटन aur अल्बर्ट आइंस्टीन ne भौतिक विज्ञान se जुड़े काफी ज्यादा सिद्धांत दिए hain aur उन्होंने काफी प्रयोग किए हैं इन दोनों ka भौतिक विज्ञान mein योगदान 95% se ज्यादा hai, लेकिन शुरुआती फिजिक्स ki जानकारी तथा शुरुआती फिजिक्स ki खोज गैलिलिओ गैलिलेइ (Galileo Galilei) ne ki थी, इसलिए ही गैलिलिओ गैलिलेइ (Galileo Galilei) ko भौतिक विज्ञान ka जनक कहा जाता hai।

गैलिलिओ गैलिलेइ (Galileo Galilei) ka जन्म 15 फरवरी 1564 ko हुआ था।ka जन्म इटली के पिसा, रिपब्लिक ऑफ फ्लोरेंस (इटली) नामक स्थान पर hua tha।गैलिलिओ गैलिलेइ (Galileo Galilei) ne ऑन मोशन, डायलॉग कंसर्निंग द टू चीफ वर्ल्ड सिस्टम, टू न्यू साइंसेस aadi किताबो को bhi लिखा hai जिसमें फिजिक्स से जुड़ी काफी जानकारियां उन्होंने di थी।

गैलिलिओ गैलिलेइ (Galileo Galilei) ka जन्म इटली की ek छोटी सी जगह par हुआ था, वह अपने माता-पिता ki तीसरी संतान the उसके बाद उन्होंने अपनी शिक्षा पडुआ ke विश्वविद्यालय se पूर्ण ki thi। उसके बाद इन्होंने फिजिक्स से जुड़ी काफी जानकारियां di तथा काफी सिद्धांतों ko इन्होंने दिया jo ki फिजिक्स से जुड़े हुए थे।

गैलिलिओ गैलिलेइ (Galileo Galilei) ka भौतिक विज्ञान mein काफी बड़ा योगदान है aur इसी कारण उनको भौतिक विज्ञान ka जनक (father of physics in Hindi) bhi कहा जाता है। उन्होंने अपने जीवन mein भौतिक विज्ञान se जुड़े काफी प्रयोग किए tatha काफी नई चीजों ki उन्होंने खोज ki aur उन्हें दुनिया के सामने रखा।