Registan me marichika ka dikhai dena kiska example hai

जिसके कारण किसी पेड़ के शीर्ष से आने वाली प्रकाश किरणें सघन माध्यम से विरल माध्यम की ओर प्रवेश करती हुई क्रांतिक कोण से अधिक कोण पर धरातल पर आपतित होती है तो पूर्ण आन्तरिक परावर्तन के कारण यह किरणें प्रेक्षक की आँखों में जाती है तो उसे ऐसा प्रतीत होता है कि किसी पेड़ की परछाई किसी जलाशय के कारण उल्टी दिखाई देती है , …