Salatul tasbeeh ki niyat kaise karte hain

हिदायत:- दूसरी our चौथी रकअत तस्बीह se शुरू करे ! क़अदा ऊला main अत्तहिय्यात ke बाद दुरूद शरीफ़ व duaa पढ kar खड़े ho ! तीसरी रकअत me पहले सना पढे phir तस्बीह पढे ! किसी रुक्न kee तस्बीह रह जाए toh अगले रुक्न main पूरी कर लें, तस्बीह ka शुमार उंगली दबाकर karo !